आज दिनांक 12-10-2020 को भाकियू भानू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ठाकुर भानूप्रताप सिंह ने जनपद गौतमबुद्धनगर मे किसान विरोधी अध्यादेशों की वापसी के लिए जेवर,फलैदा,चौरोली,दयानतपुर,मिर्जापुर, रोनीजा,रामपुर, अच्छेजा, रीलका, दनकौर, नवादा, कनारसी,बिलासपुर, पतलाखेडा,गिरधरपुर, पचायतन,घंघौला,लडपुरा सिरसा, खानपुर, कासना आदि गांवों में जनसंपर्क किया




।सरकार द्वारा लाये गये किसान विरोधी कानूनों को लेकर जनता मे काफी रोष व्याप्त है विरोध में जनता का बहुत उत्साह दिखा ,जगह जगह भारी संख्या में लोगों ने राष्ट्रीय अध्यक्ष का फूलमालाओं से स्वागत किया।और कानूनों के विरोध में नारेबाजी करते हुए जिलाधिकारी कार्यालय तक गये।कलेक्ट्रेट परिसर में काफी देर तक नारेबाज़ी के बाद तीनों काले कानूनों को वापिस लेने व एम एस पी की गारंटी कानून बनाने हेतु प्रधानमंत्री व राष्ट्रपति के लिए ज्ञापन दिया तथा जनपद मुख्य समस्याओं को लेकर भी मुख्यमंत्री के लिए एक 10 सूत्रीय माँगपत्र जिलाधिकारी को सोंपा गया जिसमें जनपद की नहरों व राजवाहों की अतिशीघ्र सफाई कराकर पानी छोड़ा जाय, दनकौर विकास खंड को बहाल किया जाय,64.7%अतिरिक्त प्रतिकर व 10%आवासीय भूखंड किसानों को दिसम्बर2020तक दिया जाय, जनपद के बेरोजगार युवाओं को रोजगार गारंटी योजना के तहत 50%कोटा निश्चित किया जाय ,सम्पर्क मार्गों को दुरुस्त किया जाय आदि माँगे रखी गई।इस अवसर पर भाकियू भानू के राष्ट्रीय अध्यक्ष भानूप्रताप ने कहा कि यदि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने इन काले कानूनों को वापिस नहीं लिया तो इस सरकार की किसान ईंट से ईंट बजाकर ही दम लैंगे और जल्दी ही दिल्ली का घेराव करेंगे।इसके साथ उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री ने यदि इन माँगों को तत्काल प्रभाव से पूरा नहीं किया तो जनपद मे  बहुत बडा आन्दोलन होगा।इस अवसर पर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अजबसिंह कसाना, राष्ट्रीय महासचिव बेगराज गुर्जर, प्रदेश महासचिव बीसी प्रधान, प्रेमसिंह भाटी,सीमा भाटी, ठाकुर सतवीर, करन,जिलाध्यक्ष राजीव नागर. राजकुमार नागर,लाटसाहब लोहिया, साकिर, मुस्तकीम, धीरज वशिष्ठ,वत्स, जयकुमार, रामबीर सोलंकी, धर्मवीर पहलवान, टीकमसिंह,विकास गुर्जर, रिजवान पठान ,सोहेल, रकम नागर, बोबी नागर,अशोक नागर, धीरज,विक्कल,करतार भाटी, पप्पल नेता, अजीत पंडित,सतीश कसाना ,मनोज,प्रदीप कसाना आदि सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Share To:

Post A Comment: