कचरा प्रबंधन प्लांट का विरोध अब राजनीतिक अखाड़ा बन गया है। एक तरफ जहां क्षेत्रीय लोग प्लांट के विरोध में धरना प्रदर्शन कर रहे हैं वहीं राजनीतिक पार्टियों के कार्यकर्ता और पदाधिकारी भी अनशन में शामिल हो गए हैं। सोमवार को हुई महापंचायत के दौरान कांग्रेस के जिला अध्यक्ष मनोज चौधरी समेत ग्यारह लोग आमरण अनशन पर बैठे



। उनका कहना है कि जब तक समस्या का समाधान नही होगा तब तक अनशन जारी रहेगा।

दरअसल अमरपुर गांव के नजदीक ग्राम समाज की करीब दस बीघा जमीन पर कचरा प्रबंधन प्लांट बनाया जाना प्रस्तावित है। जिसके विरोध में करीब पच्चीस दिन से अमरपुर, राजपुर व अन्य गांव के लोग धरना दे रहे हैं। इस धरने में सत्तर वर्षीय बुजुर्ग धर्मपाल भूख हड़ताल पर भी बैठे थे मगर शनिवार की रात एसडीएम सदर धरना स्थल पर पहुँचे और बुजुर्ग को चाय पिलाकर भूख हडताल खत्म कराई थी। सोमवार को प्रस्तावित प्लांट के विरोध में धरना स्थल पर महापंचायत का आयोजन हुआ। इस दौरान सुपरटेक अपकंट्री सोसाइटी, राजपुर व अमरपुर समेत अन्य गांव के लोग व विभिन्न किसान संगठन और कांग्रेस व समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता व पदाधिकारी महापंचायत में शामिल हुए। इस दौरान विपक्षी नेताओं ने बीजेपी पर किसानों की समस्या की अनदेखी करने का आरोप लगाया। सपा जिला अध्यक्ष वीर सिंह यादव ने बीजेपी और जिला प्रशासन पर निशाना साधते हुए कहा कि सत्ताधारी पार्टी किसानों के अधिकारों का हनन करने पर आमादा है। इसके अलावा कांग्रेस जिला अध्यक्ष मनोज चौधरी ने भी जिला प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक प्रशासन द्वारा कचरा प्रबंधन प्लांट के स्थान पर कॉलेज या अस्पताल बनाये जाने की घोषणा नही की जाएगी तब तक धरना जारी रहेगा। आरोप है कि किसानों की समस्या को सुनने के लिए कोई सक्षम अधिकारी धरना स्थल पर नही पहुँचा जिसके बाद 

कांग्रेस के जिला अध्यक्ष मनोज चौधरी, महासचिव विक्रम नागर व जिला उपाध्यक्ष दिनेश शर्मा, 

सपा नेता नरेंद्र नागर, किसान एकता संघ के कॄष्ण नागर, भाकियू टिकैत से राजे प्रधान, भाकियू भानू से 

योगेश चौधरी, करप्शन फ्री इंडिया संगठन से आलोक नागर, भाकियू अम्बावता से बिजेंद्र प्रधान और 

जय जवान जय किसान मोर्चा से बबलू प्रधान आमरण अनशन पर बैठ गए। जबकि सत्तर वर्षीय बुजुर्ग धर्मपाल पहले से ही अनशन पर बैठे हुए हैं। इस दौरान पवन खटाना, प्रवीण भारतीय, रविन्द्र प्रधान, अजीत दौला, ओमवीर नागर, जतन भाटी, त्रिलोक नागर, पहलवान अमित भाटी, दिनेश नागर, प्रेम प्रधान, अरविंद सेक्रेटरी, रमेश कसाना, आलोक नागर व बृजेश भाटी समेत सैंकड़ों लोग उपस्थित रहे।

Share To:

Post A Comment: