ननद के ताने से तंग आकर मामियों ने की थी 3 साल के भांजे की हत्या, घर के संदूक में छिपा दिया था शव


 


सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र स्थित खेड़ी भनौता गांव में मायके आई महिला के 3 वर्षीय बच्चे का शव मामा के घर में रखें संदूक के अंदर मिलने के मामले का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है।मासूम की हत्या के आरोप में उसकी दो सगी मामी को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस पूछताछ में पता चला है कि दोनों आरोपित महिलाएं भव्यांश की मां यानी अपनी ननद के ताने से परेशान थी।


इसी वजह से दोनों ने मासूम की हत्या का ताना-बाना बुना और सांस रोक कर हत्या करने के बाद शव को कपड़े से लपेट कर संदूक के अंदर रख दिया था। पुलिस दोपहर तीन बजे के करीब दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश करेगी। भांजे की हत्या करने वाली दोनों आरोपित मामी की पहचान रिंकी व पिंकी के रूप में हुई है।


डीसीपी सेंट्रल नोएडा हरीश चंदर ने बताया कि बीते दिनों सेवाराम की बेटी सीमा अपने मायके खेड़ी भनौता गांव आई थी बीते मंगलवार को उसका बेटा घर के सामने से अचानक खेलते दौरान गायब हो गया था बुधवार सुबह 3 वर्षीय बेटे भव्याश का शव उसके मामा के घर में रखे संदूक में मिला था। शव मिलने के बाद से ही करीबी पर हत्या का शक हो गया था पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पुष्टि हुई कि सांस रुकने से बच्चे की मौत हुई है इसके बाद शक यकीन में तब्दील हो गया।


जांच की गई तो बेहद चौंकाने वाले तथ्य प्रकाश में आए हैं। दरअसल सीमा का कई बार अपने भाइयों की पत्नी से विवाद हुआ था। विवाद के दौरान सीमा ने भाइयों की पत्नी रिंकी व पिंकी को जमकर ताने सुनाए थे। तानों से परेशान होकर दोनों ने साजिश रची कि वह सीमा से उसकी खुशी छीन लेंगे। इसी के तहत दोनों ने अपने सगे भांजे की हत्या कर दी।

Share To:

Post A Comment: