आज 7 अप्रैल 2020 को गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के शिक्षकों, प्रसाशनिक अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा आरंभ किये गए सेवा एवं सहायता समूह द्वारा विश्वविधालय के समीप की झुग्गियों में निवासरत परिवारों को खाद्य सामग्री का वितरण किया गया।
इस तृतीय चरण में लगभग 75 खाद्यान्न पैकेट्स जरूरतमंदों तक पहुंचाए गए। पैकेट्स में मुख्य रूप से आटा, चावल, दाल, आलू, नमक, तेल, एवं बिस्कुट रखे गए। कुल मिलाकर इस चरण में लगभग 750 किलोग्राम खाद्य सामग्री जरूरतमंदों को उपलब्ध कराई गई। इस स्वतः संचालित सहायता समूह का उद्देश्य मुख्य रूप से कॉरोना की त्रासदी  के कारण, विश्वविद्यालय एवम् इसके समीपवर्ती क्षेत्रो में निवासरत उन परिवारों को सहायता उपलब्ध कराना है जो विषम परिस्थितियों में खाद्य सामग्री जुटाने में असमर्थ हैं।  समूह की सेवा योजनाओं के सुचारु संचालन के लिए पूरा गौतम बुद्ध विश्वविद्यलय परिवार स्वेच्छा से उत्साहपूर्वक योगदान कर रहा है।  विश्वविद्यालय के समस्त अंग जैसे  डिस्पेंसरी स्टाफ एवं एम्बुलेंस चालक स्वयं की प्रेरणा से वितरण में सहयोग कर रहे हैं। वितरण टीम को डिस्पेंसरी द्वारा  मास्क, एवं ग्लव्स उपलब्ध कराए जा रहे हैं एवं  वितरण स्थल पर भी भौतिक दूरी बनाए रखने के लिए  सभी को प्रेरित किया जा रहा है। समूह द्वारा पूर्व में भी दो चरणों मे वितरण किया जा चुका है। सभी जरूरतमंदों तक मदद  सुनिश्चित करने के लिए, पहले स्थानीय प्रमुख के माध्यम से सूची बनाई जाती है। फिर सूचीबद्ध व्यक्ति को पहले ही टोकन उपलब्ध करा दिया जाता है जिससे भौतिक दूरी आसानी से बनी रहती है। आज की वितरण टीम में डॉक्टर मनमोहन सिंह शिशोदिया, डॉक्टर दिनेश शर्मा, डॉक्टर एम ए अंसारी, डॉक्टर अमित उजलयान, डॉक्टर आशीष केशरी, डॉक्टर नावेद रिज़वी, डॉक्टर विमलेश कुमार, एम्बुलेंस चालक योगेन्द्र सिंह एवं समीपवर्ती गांव से एक छात्र शामिल रहे। समूह द्वारा आगे  भी  यह सहायता उपलब्ध कराई जाती रहेगी।
Share To:

Post A Comment: