शारदा हॉस्पिटल का सेंट्रल लैब अब राज्य के उन चुनिंदा लेबोरेटरी के श्रेणी में आ गया है जहां कोरोना का जांच किया जा सकता है। कल आईसीएमआर ने अपने  नोटिफिकेशन में देश के सभी प्रयोगशालाओं के नाम का ऐलान किया जिन्हें उसने जांच करने के लिए अधिकृत किया है। इससे पहले NABL ने भी शारदा हॉस्पिटल के रियल टाइम पी सी आर मशीन स्थापित करने को एक्रेडिएशन दिया था। NABL केंद्र सरकार का एक इकाई है जो क्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा संचालित होता है।

शारदा विश्वविद्यालय का स्कूल ऑफ मेडिकल साइंसेज उत्तर प्रदेश का पहला मेडिकल कॉलेज है जिसमें कोरो ना जांच की सुविधा उपलब्ध
है। शारदा विश्वविद्यालय के चांसलर पी के गुप्ता ने चिकित्सा अधीक्षक डॉ आशुतोष निरंजन को बधाई देते हुए कहा कि यह आपसभी के टीम वर्क के कारण संभव हो सका है। शारदा हॉस्पिटल क्षेत्रवासियों को बेहतर चिकित्सा सुविधा किफायती दर पर उपलब्ध कराने के लिए वचनबद्ध है। जिला प्रशासन को भी सूचित कर दिया गया है।
शारदा हॉस्पिटल प्रबंधन ने माइक्रो बायोलॉजी विभाग के एक्सपर्टों का एक टीम तैयार किया है जो इस लैब को संचालित किया जाएगा। साथ ही यह प्रयास किया जाएगा कि अधिकाश रिपोर्ट बारह से चोबीस घंटे के भीतर जारी कर दिया जाय। इसके लिए एक अलग टीम तैयार करने को कहा गया है।

Share To:

Post A Comment: