शारदा विश्वविद्यालय ने कोरोना जैसे महामारी से उत्पन्न संकट के समय में छात्रों के पठन पाठन में कोई कमी नहीं रहे उसके लिए कई प्रयास किए जा रहे हैं। विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर डॉ शिवराम खारा स्वयं सभी कार्य कलापों पर नजर रख रहे हैं। सभी छात्रों को अलग अलग ऑनलाइन पोर्टल से जोड़ कर उनका पढ़ाई कराया जा रहा है। ज़ूम, बिग ब्लू बटन, गूगल क्लासरूम इत्यादि के माध्यम से सभी छात्रों को संबंधित जानकारी उपलब्ध कराया गया है। स्कूल ऑफ डिजाइन के छात्रों के लिए  विशेष सॉफ्टवेयर कोर्सेरा तथा स्वयम के माध्यम से उनके पाठ्यक्रम को पूरा
किया जा रहा है।
शारदा विश्वविद्यालय ने प्रत्येक ग्रुप के लिए एक वॉट्सएप नंबर भी छात्रों को उपलब्ध कराया है जिससे वो अपने छूटे हुए पाठ्यक्रम को भी अपने कोऑर्डिनेटर को अवगत करा सकें। उन छात्रों को अलग से संबंधित पाठ्यक्रम सामग्री उपलब्ध कराया जाता है। प्रत्येक दिन विभागाध्यक्ष शाम में सभी संबंधित कार्यों का लेखा जोखा लेकर डीन को सूचित करते हैं। हर तीसरे दिन कुलपति डॉ खारा सभी संकायों के डीन से प्रोग्रेस रिपोर्ट लेते हैं तथा  संबंधित डीन को जरूरत पड़ने पर जरूरी दिशानिर्देश देते हैं।
शारदा विश्वविद्यालय के प्रो चांसलर वाई के गुप्ता वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सप्ताह के अंत में सभी संबंधित विभागों से संबंधित जानकारी प्राप्त करते हैं। उनका मानना है कि इस विश्वव्यापी महामारी के कारण हमारे छात्रों का कोई एकेडमिक नुक़सान नहीं होना चाहिए।
यह हर्ष का विषय है कि ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से शारदा विश्वविद्यालय के नब्बे प्रतिशत से ज्यादा छात्र अपनी पढ़ाई कर रहे हैं।
Share To:

Post A Comment: