नवरात्रि में घर में रहकर पूजा अर्चना करेंगे श्रद्घालु


 बिलासपुर। कोरोना वायरस से सतर्कता को देखते हुए जहां शासन व प्रशासन द्वारा लोगों से घरों में रहने को कहा जा रहा है, वहीं नवरात्र पर श्रद्धालु घर में रहकर ही पूजा-अर्चना करेंगे। मंदिरों में होने वाली भीड़-भाड़ से दूर रहेंगे। यह निर्णय अधिकांश मंदिर समितियों ने लिया है। देवी मंदिर और भूतेश्वर मंदिर के कपाट बंद रहेंगे।
   25 मार्च से चैत्र नवरात्र की शुरुआत हो रही है। इन नौ दिनों में देवी मंदिरों में पूजा अर्चना के लिए श्रद्धालुओं की काफी भीड़भाड़ बढ़ जाती है। इसमें सुबह व शाम को मंदिरों में विशेष पूजा अर्चना कराए जाते हैं और शुभ कार्यों के लिए भी इन दिनों में कोई मुहूर्त देखने की जरूरत नहीं होती है। कई लोगों ने मन्नत के रुप में या फिर परंपरानुसार देवी मां का विशेष अनुष्ठान किया जाता है। लेकिन, इस बार देश में कोरोना वायरस के संकट को देखते हुए शासन और प्रशासन द्वारा व्यापक तैयारियां की गई हैं। कोरोना से बचाव के लिए जनपदवासियों से घर पर रहकर अपने काम काज करने और अनावश्यक रुप से या बिना जरूरी काम के बाहर नहीं निकलने की अपील की जा रही है।
  गौतमबुद्ध नगर जनपदवासी चैत्र नवरात्र शुरू होने को लेकर काफी उत्साहित हैं, लेकिन कोरोना वायरस को लेकर शासन और प्रशासन द्वारा दी जा रही लगातार निर्देश को देखते हुए श्रद्धालुओं को घरों से ही काम करने की सलाह दी जा रही है। ऐसे में कुछ मंदिरों में कोरोना वायरस को लेकर सतर्कता बरती जा रही है और मंदिरों में भीड़भाड़ रोकने को जरूरी कदम उठाए गए हैं।
  बिलासपुर के देवी मंदिर के महंत सोमनाथ दुबे ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव को देखते हुए नवरात्र के दिनों में देवी मंदिर श्रद्घालुओं के लिए पूरी तरह से बंद रहेगा। 
Share To:

Post A Comment: