दो माह से नहीं मिला शिक्षामित्रों को मानदेय

 जिले के 661 शिक्षामित्रों को 2 माह से मानदेय नहीं मिला है  वर्ष जनवरी और  फरवरी माह बीत जाने के बाद अब मार्च माह में शुरू हो गया है लेकिन शासन के मानदेयबजट  ने भेजने से शिक्षामित्रों को 2 माह से मानदेय नहीं मिला है ऐसे में होली का त्यौहार नजदीक है और शासन द्वारा मानदेय बजट  नही भेजा है। शिक्षामित्रों को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ता है। समायोजन निरस्त होने के बाद से प्रदेश में लगभग 15 सौ  शिक्षामित्र जान गवा चुके हैं। अल्प मानदेय में शिक्षकों के समान कार्य कर रहे हैं और ऊपर से सरकार द्वारा समय से मानदेय न देना भी शिक्षामित्रों के आर्थिक शोषण को दर्शाता है संघ के जिलाध्यक्ष जगबीर भाटी ने बताया है कि अगर 2 दिन में मानदेय का  बजट नहीं आता है तो शिक्षा मित्रों को होली का त्यौहार मनाना भी कठिन हो जाएगा।
Share To:

Post A Comment: