आज गलगोटिया कॉलिज ऑफ इंजीनियरिंग एण्ट टैक्नोलॉजी के तत्वाधान में सामाजिक न्याय एवं सशक्तिकरण मंत्रालय भारत सरकार और शराब बंदी निषेद विभाग उत्तर-प्रदेश के द्वारा नशे के रोकथाम और प्लास्टिक बंदी के लिए एक दिवसीय जागरूकता कार्यशाला का आयोजन





किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में प्रोहिबिसन अधिकारी मिस्टर अमिताभ यादव, मिस्टर दिनेश (तपस्या फाउंडेशन) मिस्टर प्रदीप गोयल,विकल्प फाउंडेशन,प्रदीप सिंह,गुरूकुल फाउंडेशन,ने भाग लेकर छात्रों को नशे बंदी के लिए प्रेरित किया। और बताया कि नशे की रोकथाम के लिए हम लोग क्या-क्या उपाय और कार्यक्रम चला रहे है। कालिज के निदेशक डॉ0 ब्रिजेश कुमार ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अथितियों को मोमेंटो देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में कॉलिज की छात्रों की टीम ने पियादे यमराज के नामक नाटक मंचन के द्वारा युवाओं में बढते नशे के प्रभाव के नुकसान को दर्शाया। मेरठ के मुक्ता आर्ट थियेटर से आई टीम ने अपने थियेटर से समाज और घरों में शराब के द्वारा हो रहे नुकसान और महलिओं के उत्पीडन पर प्रकाश डालकर उपस्थित दर्शकों से तालीयां बटोरी। कार्यक्रम में पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। जियके द्वारा छात्रों ने अपने विचार रखे। प्रतियोगिता के विजेता छात्रों को मुख्य अतिथि और डॉ0 गगन तिवारी ने ट्राफी और प्रस्सति पत्र देकर सम्मानित किया। इस दौरान कॉलिज में बनाए गये प्रोहिबिसन सैल का उदघाटन भी किया गया। ई&वैस्ट के बारें में मौ0 शाहिद ने बताया। तो वही एंटी प्लास्टिक पर डॉ0 रियाज याकूब वाणी ने प्रकाश डाला। मंच संचालन डॉ0 अंशार अंजुम ने किया। कार्यक्रम  रूप रेखा डॉ0 काकौली डे ने बताई। अंत में कार्यक्रम नशे बंदी की शपथ के साथ समाप्त हुआ। धन्यवाद ज्ञापन डॉ0 गगन तिवारी ने दिया।
Share To:

Post A Comment: