Auto Expo
: मेडिकल कैंप में हो रही चीन के अफसर और कर्मियों की जांच, कोरोनावायरस के लिए स्क्रीनिंग

ग्रेटर नोएडा।  (कोरोनावायरस) के मंडरा रहे खतरे को लेकर Auto Expo 2020 (ऑटो एक्सपो) मोटर शो में लोगों की जांच के लिए मेडिकल कैंप बनाया गया है। यहां न सिर्फ चीन से आए कंपनियों के अफसरों और कर्मियों की बल्कि लक्षण नजर आने पर किसी की भी जांच की जा सकती है। साथ ही मरीज को तुरंत एंबुलेंस के जरिये अस्पताल भी ले जाया सकता है। एक्सपो की तैयारियां जोर शोर से चल रही हैं। चीन समेत विश्व भर की वाहन निर्माता कंपनियों के कर्मी यहां पहुंचे हैं। वायरस के खतरे को देख इससे निपटने के लिए शारदा मेडिकल कॉलेज ने कैंप बनाया है। अभी से वहां विशेषज्ञ डॉक्टर, नर्स और फिजियोथेरेपिस्ट की 10-10 सदस्यों की टीम मौजूद है। शुक्रवार को टीम ने चीन समेत कुछ भारतीय लोगों की जांच की है। हालांकि, किसी भी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं। ---------------------------

शारदा अस्पताल में 40 बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। इसमें विशेषज्ञ डॉक्टरों की तैनाती 24 घंटे रहेगी। किसी भी आपात परिस्थिति में मरीजों को आइसोलेट कर इलाज शुरू कर दिया जाएगा। वार्ड की निगरानी स्वयं अस्पताल के अधीक्षक डॉ. आशुतोष निरंजन करेंगे।
इंडिया एक्सपो मार्ट में मेडिकल कैंप बनाया गया है। शुक्रवार को कुछ चीन और अन्य देशों से आए कर्मियों की जांच की गई है। किसी में वायरस के लक्षण नहीं मिले हैं। : सियाम प्रवक्ता
------------------------

भारत में नोवेल कोरोनावायरस का दूसरा सकारात्मक मामला केरल में सामने आया है। मरीज पहले भी चीन की यात्रा कर चुका है और हाल ही में वहां से लौटा है। मरीज को अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। उसकी हालत स्थिर है और उसकी करीबी से निगरानी की जा रही है। बता दें कि पहला सकारात्मक मामला भी केरल में ही सामने आया था।
---------------------

चीन में अबतक 304 लोगों की मौत
चीन में कोरोनावायरस के कारण हुई मौतों की संख्या 304 हो गई है, जबकि चीन की सरकार के हवाले से जानकारी दी गई है कि संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 14 हजार तक पहुंच गई है। यहां रहने वाले दूसरे देश के नागरिक शहर छोड़कर अपने देश लौटना चाह रहे हैं। इसी बीच भारत ने भी अपने नागरिकों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए उन्हें एयरलिफ्ट करने का फैसला लिया।

Auto Expo का आयोजन करने वाले उद्योग संगठन Society of Indian Automobile Manufacturers (SIAM) यानी सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (सियाम) ने विशेष तैयारी और सावधानी बरतने की बात कही है। चीन के कुछ शहरों में सबसे पहले वायरस का असर देखने को मिला था। ऐसे में वहां डर का माहौल है। एक्सपो में बड़ी संख्या में चीन से कंपनियों के अधिकारी और कर्मी आने हैं। हालांकि, इनकी संख्या कितनी है इसकी जानकारी सियाम के पास नहीं है। 7 से 12 फरवरी तक जनता भी प्रदर्शनी में आएगी। सियाम के उप महानिदेशक सुगातो सेन ने बताया कि संयुक्त राष्ट्र ने भी वायरस के डर से किसी भी आयोजन को स्थगित नहीं करने की बात कही है।
Share To:

Post A Comment: