27 फरवरी, 2020 से शुरू हो रही है हीटिंग रेफ्रिजरेटिंग और एयर कंडीशनिंग पर  आधारित दक्षिण एशिया की सबसे बड़ी प्रदर्शनी ACREX इंडिया 2020


ग्रेटर नोएडा।( शफ़ी मोहम्मद सैफ़ी)
इंडियन सोसाइटी ऑफ हीटिंगरेफ्रिजरेटिंग और एयर कंडीशनिंग इंजीनियर्स (ISHRAE) और न्यूरंबर्ग  मेस्से  इंडिया ने इंडिया एक्सपो मार्ट लिमिटेड (IEML)ग्रेटर  नोएडा में ACREX इंडिया के 21 वें संस्करण का आयोजन 27 फरवरी से 29 फरवरी, 2020 किया जाएगा। तीन दिवसीय प्रदर्शनी का उद्घाटन 27 फरवरी, 2020 को इंडिया एक्सपो मार्ट लिमिटेडग्रेटर नोएडा में ISHRAE  (इंडियन सोसाइटी ऑफ हीटिंगरेफ्रिजरेटिंग एंड एयर कंडीशनिंग इंजीनियर्स) के अधिकारियों द्वारा किया जाएगा।
यहां स्वच्छ हवा और IAQ  से संबंधित , "शुद्ध वायु दीर्घ आयु (अनुवाद: स्वच्छ हवालंबी आयु) शीर्षक से एक लाइव प्रदर्शनी प्रदर्शित की जाएगीजिसमें नए बनाये जा रहे घरों को डिजाइन करने की उन्नत तकनीकों पर ध्यान केंद्रित करते हुए और उनको सपोर्ट देने वाले और नेचुरल वेंटिलेशन देने वाले मैकेनिकल सिस्टम को 3- दिवसीय B2B शो के  दौरान बेल्जियमचेक गणराज्यमिस्रफ्रांसजर्मनीइटलीजापानकोरियामलेशियासऊदी अरबसिंगापुरस्पेनस्विट्जरलैंडताइवाननीदरलैंडयूएईयूकेयूक्रेन और यूएसए सहित 25 से अधिक देशों से आने वाले  विज़िटर्स और प्रदर्शकों के सामने  प्रस्तुत किया जाएगाप्रदर्शनी में विज़िटर्स को यह जानकारी दी जाएगी कि कैसे मैकेनिकल साधनों और एचवीएसी सिस्टम के माध्यम सेइनडोर स्रोतों से आने वाले इनडोर वायु जनित प्रदूषकों को समाप्त या डाइल्यूट किया जा सकता है और यह कैसे दूषित पदार्थों के स्तर को कम करता है और आईएक्यू (IAQ) में सुधार करता है। अन्य दिनों में चलने वाले अन्य प्लेनरी और टेक्निकल सेशंस में उद्योग से संबंधित विशेषज्ञ वक्ताओं द्वारा अपने विषय पर विस्तृत जानकारी दी जाएगी ।
सुशील के. चौधरीअध्यक्ष ACREX इंडिया 2020 के चेयरमैन ने कहा जैसा कि हम सरकारी क्षेत्र के आर्किटेक्टबिल्डरोंघर के मालिकों और नीति निर्माताओं को इस शो में दिखाया हैहम उपयुक्त नीतियों और दिशानिर्देशों बना कर अपने साथी नागरिकों के जीवन और स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं। प्रदर्शनी का एक विशिष्ट शो-एंड-टेल  फॉर्म विशेष एसवीडीए लाइव एक्सपीरियंस सेंटर है। ACREX इंडिया 2020 के दौरान अंतर्राष्ट्रीय संघ प्रमुखों का एक पावर-पैक्ड डेलीगेशनजिसमें अब तक का सबसे अधिक अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शक शामिल हुए हैयह सुनिश्चित करेगा कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत और ACREX इंडिया को आक्रामक रूप से कैसे बढ़ावा दिया जाए। " 
ACREX इंडिया द्वारा प्रदान किए जाने वाले अवसरों पर टिप्पणी करते हुएबोर्ड की अध्यक्ष और प्रबंध निदेशकसुश्री सोनिया प्रसादन्यूर्नबर्ग मेस्से इंडिया ने कहा , “भारतीय एचवीएसी एंड बाजार जल्दी ही अगले पांच वर्षों में  बिलियन USD के निशान को पार करने के लिए दौड़ लगा रहा हैजो इसे भारतीय उप-महाद्वीप में एक स्थान पाने के लिए प्रयत्नरत अंतरराष्ट्रीय बाजार के प्रत्येक निर्माता के लिए अनिवार्य बनाता है ।ACREX इंडिया 2020 सभी स्टेकहोल्डर्स और डिसीजन मेकर्स तक पहुंचने के लिए एचवीएसी और आर उद्योग से जुड़े सभी लोगों के लिए एक मूल्यवान मंच बनाता है। ”  
सैनहुआ इंडिया के कंट्री हेड,श्री सौरभ भनोटके अनुसार  “ सैनहुआ में हम यह विश्वास करते हैं कि हमारे उद्योग के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रौद्योगिकियों को बनाने के लिए हमारे संबंधित व्यवसाय के अनुसंधान और विकास में हमे गहराई से शामिल होना चाहिए। इसलिए दुनिया के सभी प्रमुख एचवीएसी निर्माता इनोवेशनविश्वसनीयता और प्रदर्शन के लिए सैनहुआ कंपोनेंट्स पर निर्भर हैं। सैनहुआ दुनिया भर में एचवीएसी एंड आर उद्योगों के लिए उन्नत प्रौद्योगिकी समाधानों को बनाने का नेतृत्व करना जारी रखेगा और भारत के बाजार के लिए अधिक मूल्यवान उत्पादों को निवेश करना और उपलब्ध करना जारी रखेगा। सैनहुआ Acrex के साथ एक समय- प्रतिष्ठित संबंध रखता है और Acrex 2020 के लिए कर्टेन रेज़र पार्टनर के रूप में उसे जारी रखने के लिए  प्रसन्न है। " 
ऊँची इमारतों की बढ़ती संख्या के साथराष्ट्र में शॉपिंग मॉल / सेंटर्सहाइपरमार्केट और स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट का श्रेय भारतीय एचवीएसी बाजार को दिया जाता हैजिसके 2024 तक  5.9 USD बिलियन तक पहुंचने की संभावना है।उन्नति करते इंफ्रास्ट्रक्चर -आधारित विकासतकनीकी प्रगति और बढ़ती पर्यटन गतिविधियाँचरम जलवायु परिस्थितियाँबढ़ती डिस्पोजेबल आयवाणिज्यिक और आवासीय दोनों क्षेत्रों में बढ़ती निर्माण गतिविधियाँचिकित्सा पर्यटन और आईटी और आईटीईएस क्षेत्र का विस्तारविभिन्न सरकारी पहलों के साथ मिलकर ऊर्जा दक्षता में सुधार लाने के उद्देश्य से  इस उछाल में सहायता करने वाले अपेक्षित कुछ अन्य प्रमुख कारक हैं।
Share To:

Post A Comment: