संदीप द्वारा गाली-गलौज करने एवं थप्पड़ मारने को लेकर दिया हत्याकांड को अंजाम

ग्रेटर नोएडा। ग्रेटर नोएडा के दनकौर थाना प्रभारी अखिलेश प्रधान ने अपने पुलिस बल एसआई मोहनलाल, कास्टेंबल 591 सुधीर कुमार, कास्टेंबल 1256 भूपेन्द्र सिंह, कास्टेंबल 2023 रवि वालियान के साथ मिलकर शनिवार को हिन्दू युवा वाहिनी के नेता की हत्या मे वांछित चल रहे दो अभियुक्तों रोहित भाटी, चमन भाटी निवासी ग्राम साकीपुर थाना सूरजपुर जनपद गौतमबुद्धनगर, वर्तमान पता-मान जी 222 SGM संजय गांधी मैमोरीयल कालोनी नियर सैक्टर 21 डी थाना एनआईटी-5 जिला फरीदाबाद हरियाणा, रिंकू भडाना पुत्र सरदारे निवासी ग्राम अनंगपुर थाना सूरजकुंड फरीदाबाद हरियाणा हाल पता केयर आफ धीरज भाटी  निवासी ग्राम चुहड़पुर थाना ईकोटेक प्रथम जनपद गौतमबुद्धनगर ईस्टर्न पेरीफेरल पर यमुना एक्सप्रेस वे अण्डर पास के ऊपर से गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए अभियुक्तों के कब्जे से पुलिस ने एक पिस्टल 32 बोर मय दो कारतूस जिन्दा मय मैगजीन, एक कार जीप कम्पास HR87B 7878,एप्पल कम्पनी का आई फोन 7, सैमसंग का स्मार्ट फोन और एप्पल आई फोन 11 प्रो बरामद किया है। गिरफ्तार अभियुक्तगणों ने पुलिस पूछताछ मे बताया कि मृतक संदीप नागर पुत्र वीरू नागर निवासी अट्टा गुजरान बहनोई रोहित भाटी उपरोक्त आपस में रिश्तेदार है तथा 10-17 सालों से इनका आपस में उठना बैठना व घर आना जाना है। तथा इन दोनों का एक दोस्त रिंकू उपरोक्त जो रोहित भाटी का कापी करीबी दोस्त है जिसे संदीप नागर अक्सर गाली गलौज किया करता था। यह बात रोहित भाटी को अच्छी नहीं लगती थी। इसी क्रम में 25 नवम्बर 2019 को ग्राम दुजाना में प्रधान के भतीजे के रिशेप्मान में तीनों मित्र शामिल हुये थे। और दुजाना में ओमपाल प्रधान के मार्केट में बनी ऑफिस में बैठकर शराब पी थी जहाँ पर काफी लोग एकत्रित थे। वहीं पर रिंकू भड़ाना को
गाली न देने के लिये रोहित भाटी ने संदीप नागर को कहा तो इन तीनों में आपस मे गाली गलौज व कहासुनी हो गयी थी। जिसमें रिंकू  और रोहित ने संदीप नागर को जान से मारने की धमकी दी थी। और इसी घटना में संदीप नागर ने
रोहित भाटी को कई लोग के सामने एक थप्पड भी मार दिया था। जिससे वह अपने अन्दर बदले की भावना के लेकर उत्तेजित था। और 26 नवम्बर 2019 की रात्रि 10.30 बजे रोहित भाटी अपने दोस्त रिंकू भडाना को साथ लेकर दोनों के दवारा बनाई योजना के अनुसार संदीप नागर को ग्राम अट्टा गुजरान से फोन कर बुलाकर अपने साथ ले गये और जगतफार्म से बीयर और शराब खरीदी गयी तथा उसके बाद ये लोग ग्रेटर नोएडा और कासना में आदि स्थानों पर घूमते रहे तथा वापस आते समय जगनपुर के पैंडे पर गाड़ी रोककर तीनों ने बियर पी और संदीप नागर को माफी मांगने के लिये कहा तो वह और उत्तेजित हो गया और ज्यादा गाली गलौज करने लगा लेकिन माफी नहीं मांगी तो गुस्से में आकर रोहित आटी ने अपने दोस्त रिंकू  से संदीप
नागर के हाथ पकड़वा कर संदीप नागर के सिर में गोली मार दी और उसके शव को उठाकर बन्धे
पर से नीचे की ओर फेंक दिया था और फरीदाबद भाग गये। और 30 नवम्बर 2019 को उपरोक्त दोनों अभियुक्तगण नेपाल जाने की फिराक में थे। कि मुखबिर की सूचना पर ईस्टर्न परीफरल यमुना एक्सप्रेस वे अण्डर पास के ऊपर पुल पर फरीदाबाद से नोएडा जाने वालेरोट से मय वाहन आला कत्ल के गिरफ्तार कर लिया। उपरोक्त अभियुक्तगणों के विरुद्ध आवश्यक वैधानिक कार्यवाही कर न्यायालय के समक्ष पेश कर दिया है।अभियुक्तों की गयी गिरफ्तारी में उत्साहवर्धन हेतु गिरफ्तार करने वाली टीम को बरिष्ठ
पुलिस अधीक्षक गौतमबुद्धनगर द्वारा नगद 25000 रूपये के पुरुषकार की घोषण की है।
Share To:

Post A Comment: