मिथिला संस्कृति, मैथिली भाषा और मिथिला फूड को बढावा देने के लिए “मिथिला लोक महोत्सव 2019” का आयोजन




ग्रेटर नोएडा। दिल्ली-एनसीआर में मिथिला संस्कृति, मैथिली भाषा और मिथिला फूड को बढावा देने के लिए “मिथिला लोक महोत्सव 2019” का आयोजन किया गया। ग्रेटर नोएडा स्थित गौर सिटी 1 में मौजूद राधा कृष्ण पार्क में इसका आयोजन किया गया। इस मौके पर सांस्कृतिक संध्या का भी आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत पारंपरिक तरीके से दीप प्रज्ज्वलन कर किया गया। इसकी शुरुआत भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ट नेता व राज्यसभा सांसद प्रभात झा ने किया। इस अवसर पर संस्था के अध्यक्ष श्री ललित कुमार झा ने बताया कि यह कभी रुकने वाली प्रक्रिया नहीं है। समय-समय पर ऐसे आयोजन किए जाते रहे हैं और आगे भी जारी रहेंगे। इससे मिथिला और मैथिल समाज को एकत्रित किया जा सकता है। वहीं, कार्यक्रम में मौजूद मुख्य अतिथि प्रभात झा ने बताया कि मिथिला संस्कृति देश की प्राचीनतम संस्कृति है। माता सीता की गाथा समेटे रामायणकालीन यह संस्कृति मिथिला भाषा और मिथिला खान-पान व परम्पराओँ में जिन्दा है। इसे मजबूत करने की जरूरत है। देश में मौजूद हर एक छोटी-बड़ी प्राचीन संस्कृतियों को जिन्दा रखकर ही राष्ट्रीय संस्कृति को मजबूत किया जा सकता है। इस अवसर पर साकेत चौधरी, अजय झा, सरोज झा, आशीष झा, पंकज ठाकुर, राजीव झा ,मुकुंद झा, ब्रजनंदन सिंह, रुपेश झा, संतोष झा, कन्हैया झा, अमित झा, अनूप मिश्रा, संजय झा समेत संस्था के सभी पदाधिकारी मौजूद रहे।

माधव राय, जूली झा, विकास झा जैसे मिथिलांचल के मशहूर कलाकारों ने इस सांस्कृतिक संध्या पर अपनी प्रस्तुतियां दे कर कार्यक्रम को चार चांद लगाने का काम किया। सांस्कृतिक संध्या कि शुरुआत मिथिला की पारंपरिक गीत “जय जय भैरवी” से किया गया। इस मौके बड़ी संख्या में लोग इस महोत्सव में शरीक हुए। सांस्कृतिक संध्या में मौजूद रहने वाली शख्सियतों में राज्यसभा के सांसद प्रभात झा, जेडीयू के दिल्ली प्रमुख दयानन्द राय, पूर्व मंत्री महाबल मिश्रा, नोएडा के ज्वाइंट कमिश्नर कुमार आनंद, शिझाविद शेफालिका वर्मा व आईपीएस संजय झा प्रमुख हैं।

Share To:

Post A Comment: