उत्तर प्रदेश राजस्व महासंघ ने कलेक्ट्रेट पर किया धरना-प्रदर्शन।
ग्रेटर नोएडा।  चकबंदी विभाग का राजस्व विभाग में विलय करने के खिलाफ गुरुवार को समूचे उत्तर प्रदेश में राजस्व महासंघ ने विरोध जताया इसी कड़ी में सूरजपुर स्थित कलेक्ट्रेट में भी उत्तर प्रदेश राजस्व महासंघ के बैनर तले सैकड़ों कर्मचारियों ने धरना प्रदर्शन किया तथा मुख्यमंत्री को संबोधित एक ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन में उत्तर प्रदेश राजस्व महासंघ के जनपद गौतम बुद्ध नगर के अध्यक्ष अरविंद कुमार तथा महामंत्री ब्रजमोहन शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा चकबंदी विभाग का राजस्व विभाग में प्रतिनियुक्ति की दिशा में अब तक की  गई कार्रवाई तथा यह निर्णय किसानों तथा प्रदेश समाज के हित में नहीं है मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में मांग की गई कि  11 सो ग्रामों में प्रथम चकबंदी होने से वर्ष 1925 के बंदोबस्त एवं बंदोबस्ती नक्शे से ही कार्य हो रहे हैं जिन ग्रामों में चकबंदी हो चुकी है वहां भी अधिकांश गांव के नक्शे छीर्ण  पड़े  हुए हैं चकबंदी प्रक्रिया के माध्यम से होने वाले भूमि अभिलेख आदि बंद कर मनमानी तरीके से विभाग के पदों पर प्रतिनियुक्ति का कोई औचित्य नहीं है मुख्यमंत्री से मांग की है कि इस मामले पर  तुरंत कार्यवाही  करें इस प्रदर्शन में तहसील सदर के तहसीलदार अरविंद कुमार दादरी के तहसीलदार आलोक कुमार ,दुर्गेश सिंह, यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के तहसीलदार जीत सिंह नीलम श्रीवास्तव जेवर तहसील के तहसीलदार राकेश जैन नोएडा प्राधिकरण के तहसीलदार वीर सिंह व सैंकड़ों तहसीलदार संग्रह अमीन कानून लेखपाल सहायक भूलेख अधिकारी तथा राजस्व निरीक्षक मौजूद थे
Share To:

Post A Comment: