शारदा अस्पताल ने डॉक्टर्स और  स्टाफ के साथ आयुष्मान भारत योजना की जागरुकता को बढ़ाने के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया । गौतम बुद्ध नगर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अनुराग भार्गव ने योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी तथा अधिक से अधिक लाभार्थियों से योजना का लाभ लेने का आह्वान किया। डॉ भार्गव ने शारदा ग्रुप के वाईस चेयरमैन वाई के गुप्ता को धन्यवाद दिया की उन्होंने भारत सरकार के इस महत्वाकांक्षी योजना को इतने अच्छे ढंग से लागु करने में सहयोग दिया| उम्मीद है शारदा हॉस्पिटल में आयुष्मान भारत के रोगियों के लिए विशेष सुविधाएँ उपलब्ध कराया जायेगा |
        स्वास्थ्य और पोषण के प्रति लोगों को जागरूक करने और  आयुष्मान भारत योजना के टोल फ्री नंबर 180018004444 की  जानकारी लोगो तक पहुंचने  के लिए जिला चिकित्सा अधिकारी के निर्देशन में इस कार्यक्रम  का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के तहत शारदा यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ़ मेडिकल एंड रिसर्च के विद्यार्थीओ, डॉक्टर्स और  स्टाफ द्वारा शारदा हॉस्पिटल प्रांगण में यह आयुष्मान भारत कार्यक्रम आयोजित किया गया।  इस रैली के माध्यम से आयुष्मान योजना के तहत 5 लाख रुपये तक मुफ्त उपचार का लाभ लेने हेतु सभी राशन कार्ड धारियों से गोल्डन कार्ड बनाने का आह्वान किया गया और आवश्यकता अनुसार मुफ्त उपचार कराने को जानकारी को भी साँझा किया गया।
भारत सरकार 'प्रधानमंत्री जन आरोग्य' योजना (आयुष्मान भारत योजना यानी ABY)  के माध्यम से गरीब, उपेक्षित परिवार और शहरी गरीब लोगों के परिवारों को स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराना चाहती है, इस योजना की जानकारी  को आम आदमी तक पहुंचने के लिए शारदा अस्पताल ने इस कार्यक्रम का आयोजन किया । इस कार्यक्रम में डॉक्टर्स द्वारा इस योजना के अंतर्गत आने वाली जानकारिओं को इसप्रकार साँझा किया आयुष्मान भारत योजना (ABY) में प्रति परिवार हर साल 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा मिलेगा और इसमें पुरानी बीमारियों को भी कवर होंगी । स्वास्थ्य बीमा के पैनल में शामिल किसी भी अस्पताल से ABY में बिना पैसे दिए (कैशलेस) इलाज किस प्रकार होगा. योजना के तहत कसौटी पर खरे उतरने के लिए शारदा  अस्पताल ऑनलाइन पैनल में  है और कैशलेस या पेपरलेस इलाज के लिए आईटी फ्रेमवर्क विकसित कर चुका है।

शारदा विश्वविधालय के प्रो चांसलर वाई के गुप्ता ने  संदेश देते हुए कहा कि जन आरोग्य योजना एक महत्वाकांक्षी योजना है जिसका लाभ गरीब परिवारों को मुफ्त में दिया जा रहा है


. उन्होंन पोषण रैली के माध्यम से बताया कि हमलोग स्वच्छता, नियमित स्वास्थ्य जांच और अपने दैनिक खानपान की आदतों में थोड़ा सा बदलाव करके अपने आप को कुपोषण से मुक्त रख सकते हैं. इससे एक स्वस्थ्य परिवार और स्वस्थ समाज का निर्माण होगा. इस जागरूकता रैली में शामिल डॉक्टर्स  के द्वारा पोषण, स्वच्छता एवं चिकित्सा से संबंधित तख्ती के साथ लोगों के बीच संदेश देने का कार्य किया गया.
इस अवसर पर उपस्थित डॉ राजा दत्ता ने भी कहा कि इस रैली के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों के बीच जागरूकता फैलाने का कार्य किया जा रहा है. और जिनका आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड नहीं बन पाया है उनसे अपील है कि वे शीघ्र गोल्डन कार्ड बना लें. शारदा अस्पतालने  अपने स्तर से योजना का प्रचार-प्रसार किया।
Share To:

Post A Comment: