शहर में बढ़ती छेड़छाड़ की घटनाओं से निपटने के लिये नोएडा पुलिस एंटी रोमियो स्कवॉड को फिर से किया जा रहा है। सक्रिय करने जा रही है। अधिकारियों के अनुसार छेड़छाड़ करनेवाले युवक को पहले रेड कार्ड दिया जाएगा और वह दोबारा पकड़ा गया तो सीधे जेल भेजा जाएगा।

नोएडा। नोएडा पुलिस अब छेड़छाड़ करने वाले युवकों पर अंकुश लगाने के लिए एंटी रोमियो स्कवाड को एक्टिव करते हुए सभी थानों में एक टीम तैनात की है। वही सभी स्कूलों में एक फॉर्म भी बांटे जाएंगे, जिसके माध्यम से ये जानकारी प्राप्त की जायेगी, जिससे ये पता चल सके कि मजनुओं की एक्टिविटी सबसे ज्यादा कहां है। वहीं मजनुओं को रेड कार्ड जारी किया जाएगा और उन्हें चेतावनी दी जाएगी और दोबारा ऐसी हरकत करने पर सीधे मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया जाएगा।नोएडा पुलिस द्वारा लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करने वालों को रेड कार्ड नोटिस देने की पहल का राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) के अध्यक्ष द्वारा की गई सराहना, Twitter पर उन्होंने नोएडा पुलिस की जमकर तारीफ की है।
मजनुओं की अब खैर नहीं। 
ग्रेटर नोएडा कार्यालय में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में पुलिस अधीक्षक ग्रामीण द्वारा क्षेत्राधिकारी ग्रेटर नोएडा प्रथम की उपस्थिति में जनपद के समस्त थानों पर गठित एंटी रोमियो स्कावाड की मीटिंग ली गयी। मीटिंग में सभी टीमों को छात्राओं तथा महिलाओं के सम्मान व सुरक्षा के प्रति पूर्ण सजगता और समर्पण से कार्य करने का आवाह्न किया गया। जनपद गौतमबुद्ध नगर के एंटी रोमियो स्क्वाड को और अधिक प्रभावशाली बनाने के लिये एक नये प्रयोग की शुरुआत की जा रही है। जिसके अंतर्गत सभी टीमो को स्कूल कॉलेजों में जा कर वहां के प्रधानाचार्य के माध्यम से फीडबैक फॉर्म को छात्राओं के बीच वितरित करा के उनके बहुमूल्य सुझाव लिये जाएंगे। जिनसे हमे ये जान सके कि वो कौन कौन से स्थान हैं जहां एंटी रोमियो स्क्वाड की सक्रियता बढ़ाने की आवश्यकता है।
छात्राओं द्वारा दिये गए सभी बिंदुओं को थानावार चिन्हित कर उसकी मैपिंग की जाएगी, जिससे सभी टीमों को छेड़खानी आदि के स्थान की जनकारी हो। छात्राओं से मिले सुझावों की मदद से एंटी रोमियो स्कवाड को अपनी कार्रवाई को और प्रभावी बनाने में काफी मदद मिलेगी ।इसके अतिरिक्त एंटी रोमियो स्क्वाड द्वारा सार्वजनिक स्थानों पर जिन शोहदों को किसी आपत्तिजनक/अशोभनीय कृत्य करते हुए पकड़ा जाएगा उन्हें टीम द्वारा रेड कार्ड दिया जाएगा । ये रेड कार्ड उक्त व्यकितयों को अंतिम चेतावनी के तौर पर दिया जाएगा और उनकी सभी डिटेल टीम अपने रजिस्टर में नोट करेगी। ये रेड कार्ड ऐसे अराजक तत्वों के विरुद्ध एक प्रभावी कदम होगा।
Share To:

Post A Comment: