यूपी। शामली में पत्रकार की पिटाई करने वाले जीआरपी एचएचओ राकेश कुमार सस्‍पेंड

यूपी के शामली में पत्रकार की पिटाई करने के आरोपी जीआरपी एचएचओ राकेश कुमार को सस्‍पेंड कर द‍िया गया है। राकेश कुमार के अलावा कॉन्‍स्‍टेबल संजय पवार को भी सस्‍पेंड क‍िया गया है।पत्रकार की पिटाई करने के आरोपी जीआरपी एसएचओ और कॉन्‍स्‍टेबल सस्‍पेंड पुलिसकर्मियों पर आरोप है कि उन्‍होंने पत्रकार के साथ अमानवीय कृत्य किए पत्रकार ने बताया कि जीआरपी हिरासत में उन्‍हें नंगा कर मुंह में पेशाब किया गया। उत्तर प्रदेश के शामली जिले में पटरी से उतरी मालगाड़ी की कवरेज करने गए एक पत्रकार की पिटाई करने के आरोपी जीआरपी एसएचओ राकेश कुमार और कॉन्‍स्‍टेबल संजय पवार को सस्‍पेंड कर दिया गया है। यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा है कि आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। इन दोनों पुलिसकर्मियों पर आरोप है कि उन्‍होंने पत्रकार अमित शर्मा के साथ बदसलूकी की और उसके साथ अमानवीय कृत्य किए। इससे पहले बुधवार सुबह पत्रकारों ने आरोपी अधिकारियों के खिलाफ प्रदर्शन किया था।
पीड़‍ित पत्रकार अमित शर्मा ने बताया कि पिटाई करने के बाद पुलिसकर्मियों ने उन्‍हें हिरासत में लिया। हिरासत में उन्‍हें नंगा किया गया और उनके मुंह में पेशाब किया गया। आरोप है कि पुलिसकर्मी सादी वर्दी में थे और उन्होंने घटनास्थल पर ही गाली गलौज और मारपीट शुरू कर दी। साथ ही मीडियाकर्मियों का माइक भी छीन लिया। पिटाई की घटना का विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।
पत्रकार ने आरोप लगाया है कि पुलिसवाले उनसे कैमरा छीनने लगे और कैमरा नीचे गिर गया। वह कैमरा उठाने के लिए झुके तो सादी वर्दी में एक पुलिसवाले ने पिटाई शुरू कर दी और भद्दी गालियां देने लगा। मीडियाकर्मी ने आरोप लगाया है कि पुलिसकर्मी करीब 200 मीटर उन्‍हें पिटाई करते हुए ले गए और उन्हें लॉकअप में बंद कर दिया और फिर मुंह में पेशाब की। पत्रकार शर्मा ने बताया कि रेलवे की एक खबर चलाने के बाद पुलिसवाले उनसे नाराज थे
Share To:

Post A Comment: