ग्रेटर नोएडा। (शफ़ी मोहम्मद सैफ़ी)महिलाओं व बच्चियों के ख़िलाफ़ हिंसा व अपराध एक बड़ी समस्या बनती जा रही है। महिलाओं के खिलाफ हिंसा,हत्या, और बलात्कार के मामले रुकने का नाम नही ले रहे ।सामाजिक संगठन महिला उन्नति संस्था(भारत)इसकी निंदा करती है।संस्था के अध्यक्ष डॉo राहुल वर्मा के अनुसार इस तरह की शर्मनाक घटनाओं में समाज सबसे ज्यादा दोषी है और कानून व्यवस्था भी।अन्यथा ये कैसे संभव है कि अपराधियों के अंदर इतनी हैवानियत आ जाये कि अपराधी हर दिन नये व भयानक रूप से वारदातों को अंजाम दे रहे हैं ।आये दिन एक ना एक बच्ची या महिला इनकी हैवानियत की बली चढ़ रही है ।आज समय की मांग है कि लड़कियो को कानून की पूर्ण जानकारी और रक्षा के गुर सिखाए जाने चाहिए ।और इसे बेसिक लाइफ में सभी स्कूल और कालिजों में कोर्स की तरह लागू किया जाना चाहिए
।ताकि महिला अपनी सुरक्षा खुद कर सके ।इसके साथ-साथ अपराधी को कानून द्रारा कठोरतम दंड देने के साथ-साथ समाज द्रारा वहिष्कार किया जाए ।ताकि अपराधी अपराध करने से पहले सो वार सोचे ।इस दंश को जड़ से खत्म करने के लिए समाज को आगे आना होगा। 
Share To:

Post A Comment: