ग्रेटर नोएडा ।(
शफी मोहम्मद सैफी) स्वर्ण नगरी स्थित जी. डी. गोयंका पब्लिक स्कूल में महावीर जयंती के उपलक्ष्य में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें छात्रों ने जैन धर्म के 24 वें तीर्थंकर महावीर स्वामी की भक्ति के अनेकानेक रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए। भक्तिरस के गीत जय महावीरा जय जय महावीरा ....... से वातावरण गुँजायमान हो गया। छात्रों द्वारा महावीर स्वामी के उपदेषों को नाट्य के माध्यम से प्रस्तुति को देखते ही विद्यालय प्रांगण में तालियों की ध्वनि ने आनन्द का समां बाँध दिया। विद्यालय के छात्रों द्वारा महावीर स्वामी के विषय में वक्तव्य के माध्यम से बताया गया। छात्रों के द्वारा प्रस्तुत किए गए इस कार्यक्रम ने सबको भावविभोर कर दिया। अंत में विद्यालय की प्रधानाचार्या डा0 रेणू सहगल ने कहा कि महावीर के विचारों में जीवों की रक्षा कर लेना ही मात्र अहिंसा नहीं है। किसी भी प्राणी को तकलीफ नहीं पहुंचाना मात्र अहिंसा नहीं है। बल्कि यदि किसी को हमारी मदद की आवष्यकता है और हम उसकी मदद करने में सक्षम हैं फिर भी हम उसकी सहायता न करें तो यह हिंसा माना है। छात्रों का उत्साहवर्धन करते हुए कार्यक्रम के समापन की घोषणा कर सभी को महावीर जयंती की शुभभकामनाएँ दीं। प्रार्थना सभा के बाद छात्र सामुदायिक भ्रमण के अंतर्गत प्राथमिक विद्यालय दनकौर भी गए जहाँ पर छात्रों से अपनी जानकारी साझा किए।

Share To:

Post A Comment: