400 बीघे गेहूं की फसल में लगी आग से किसान तबाह



 बिलासपुर क्षेत्र स्थित रामपुर माजरा के जंगल में करीब 400 बीघे किसानों की गेहूं की फसल में लगी आग से किसान पूरी तरह से तबाह हो गया । इस दौरान फायर ब्रिगेड की गाड़ियों के लिए किसान फोन नंबर मिलाते रहे लेकिन संपर्क नहीं हुआ वरना किसानों की तबाही से बचाया जा सकता था घंटो बाद संपर्क होने पर पहुंची फायर ब्रिगेड की गाड़ियां से पहले ही करीब 400 बीघे गेहूं की खड़ी फसल व कटाई कर लगाऐ गए चंका में लगी आग से दर्जनों किसान पूरी तरह बर्बाद हो चुके इस दौरान सुरेंद्र भाटी के आठ बीघा,  कमल के सोलह बीघा, अभय पाल की 24 बीघा, महुआ की 13 बीघा, बिजेंद्र की आठ बीघा,  जगबीर की 18,  महिंद्र की 45, मांगेराम की 50, चंदर की तेरह, राजे की पैतीस, शेरपाल की चार, देवेंद्र के सात, राजन के आठ, मलुआ के बारह,  रघुराज की आठ, पप्पू की तेरह, अजीपाल के आठ, जसवीर के आठ,  विजय पाल की बारह, अपला की चौबीस, विनोद की 15, अशोक की बीस, ओमी की पैतीस बीघा गेहूं की फसल जलकर राख हो गई । किसानों की फसल पूरी तरह से जलकर राख हो गई इस दौरान क्षेत्र के सैकड़ों किसान मजदूरों दर्जनों ट्रैक्टर से आग पर काबू पाने के लिए काफी कोशिश की है लेकिन प्रचंड गर्मी और तेज हवा में आग रोकने में नाकाम रहे ट्रैक्टर से आसपास के खेतों की जुताई कर आग पर काबू पाया गया वरना बिलासपुर के जंगल को भी आग अपनी चपेट में ले लेते हैं इस भीषण आग की तबाही में किसान के साथ कटाई के मजदूर भी पूरी तरह से बर्बाद हो चुके हैं ग्रामीणों ने शासन प्रशासन से किसानों वह मजदूरों को मुआवजा दिलाने की मांग की है ।
Share To:

Post A Comment: