बिलासपुर। बूढ़े बाबा के मेले में बुधवार को क्षेत्र के बहुत लोग शामिल हुए यह मेला जो साल में 2 बार लगाया जाता है बताया जाता है कि जाता है कि तालाब की मट्टी अगर चरम रोग पर लगा दी जाती है तो चर्म रोग खत्म हो जाता है आसपास के गांवो के इन महिलाओं की संख्या अच्छी खासी रहती है। महिलाएं बूढ़े बाबू के  पर आती है बुधवार को भूरे बाबू के मेले में काफी भीड़ रही  बिलासपुर पुलिस चौकी इंचार्ज  अखिलेश दीक्षित के नेतृत्व में  पुलिस बल की व्यवस्था रही जिसने मेले में  सुरक्षा व्यवस्था पर ध्यान दिया  और यातायात  पर भी पुलिस की पूरी नजर रही यह मेला पिछले सैकड़ों वर्षों से  यहां लगता है। मान्यता हैं कि बूढ़े बाबू के तालाब में आकर जो कोई स्नान कर मंदिर में प्रसाद चढ़ाता है तो उसे चर्म रोग से मुक्ति मिलती है। इसी मान्यता के चलते हर वर्ष माद्य माह में लगने वाले इस मेले में लोगों की अच्छी खासी संख्या रहती है।  लोग मेले में पहुंचकर जात लगाते है क्योंकि माना गया हैं कि अगर बूढे बाबू  पर आकर शनिवार को कोई जाम लगता है तो उसे बहुत लाभ होता है
Share To:

Post A Comment: